Google+ Badge

Google+ Badge

Google+ Badge

शुक्रवार, 30 मार्च 2018

राजस्थान दिवस पर विशेष गाथा राजस्थान की


आओ हम जग को सुनाये , गाथा राजस्थान की ।
नागभट , बप्पा , राणा सांगा , कुम्भा के बलिदान की ।।

पन्ना ने सुत की बलि दी , ममता का मन मार के ।
राजकुँवर के प्राण बचाये , गाथा राजस्थान की ।
आओ हम जग को सुनाये , गाथा राजस्थान की ।।

देवहंस ने ना झुकाई गर्दन,कम्पनीराज हिला दिया।
सूरजमल से वीर , गाथा राजस्थान की ।
आओ हम जग को सुनाये , गाथा राजस्थान की ।।

किसानों को हक़ दिलाये,वीर पथिक बलिदानी ने।
हल्दी घाटी गुनगुनाये , गाथा राजस्थान की ।
आओ हम जग को सुनाये , गाथा राजस्थान की ।।

मरू भूमि की मिट्टी महकती , गुर्जरसेना के रण से ।
अरबों को मार भगाये,गुर्जरात्रा के कण कण से ।
आओ हम जग को सुनाये , गाथा राजस्थान की ।।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें