Google+ Badge

Google+ Badge

Google+ Badge

बुधवार, 2 मई 2018

काले झंडे दिखाने वालों के नाम गुर्जर नेता दिनेश गुर्जर का पैगाम

सभी राजनैतिक दलों के आदरणीय साथियों से मेरी विनम्र अपील:----

        साथियों में पिछले 20-21 वर्षों से में समाजवादी पार्टी से जुड़ा हूँ।  समाजवादी पार्टी के संगठनों में विभिन्न -2 पदों पर काम किया और वर्तमान में भी सगठन में काम कर रहा हूँ। इसके साथ साथ  में अखिल भारतीय गुर्जर महासभा के  पिछले 3 वर्षों से प्रदेश अध्यक्ष भी हूँ। इस कारण पार्टी के सगठन ओर अखिल भारतीय गुर्जर महासभा के प्रदेश अध्यक्ष होने के नाते अक्सर दूसरे प्रान्तों में आना जाना लगा रहा है। *पिछले 10 दिनों से मेरे दिन में एक सवाल आ रहा है जिसे में आप सब साथियों के बीच बाटना चाहता हूँ। कि हमारे पूरे देश के कुछ बड़े नेताओं तथा प्रधानमंत्री / केंद्रीय मंत्री/प्रदेश के मुख्यमंत्री/ प्रदेश के मंत्री तथा सभी राजनैतिक दलों के राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा उन्ही दलों के कुछ बड़े नेताओं को बहुत जगह काला झंडा दिखाकर विरोध दर्ज करने की परम्परा चली आ रही है। ऐसा क्यों। क्या इस परम्परा को हम कुछ भी करके खत्म नही कर सकते है। पहले तो हमारी चुनी हुई सरकारें राजनैतिक दलों के राष्ट्रीय अध्यक्ष बड़े नेताओं को जनता के लिए अच्छा कार्य करे। ताकि उनको किसी भी जिले या राज्य में जाने पर विरोध झेलना न पड़े।
    कुछ समय पूर्व प्रदेश के मुख्यमंत्री आदरणीय योगी जी जनपद बुलंदशहर में आये थे। इस दौरान समाजवादी पार्टी के कुछ साथियों ने उनको काले झंडे दिखाये। यह एक परम्परा सी पड गई है। *जब प्रदेश के मुख्यमंत्री आदरणीय अखिलेश यादव जी थे तब सर्वाधिक काले झंडे BJP के कार्यकर्ताओं ने दिखाये थे* जबकि प्रदेश में आदरणीय अखिलेश यादव जी ने आज तक के इतिहास में सबसे अच्छा कार्य और अत्यधिक विकास किया।
    आदरणीय साथियों में सभी जनपद बुलंदशहर ओर आसपास के सभी राजनैतिक दलों के नेताओं और साथियों से विनम्र निवेदन करना है चाहता हूँ कि हम सबको मिलकर सकारात्मक सोच के साथ राजनीति में कटुता को छोड़कर आपसी तालमेल से हम इस बहुत खराब परम्परा( काले झंडे दिखाने की ) को खत्म करना चाहिए।
   आदरणीय साथियों अगर आपको किसी भी राजनैतिक पार्टी के नेता/ मुख्यमंत्री/ प्रदेश के मंत्री से कोई शिकायत है तो उस शिकायत को हम समय लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री/ मंत्री तथा जनपद के प्रभारी मंत्री / प्रदेश अध्यक्ष से मिलकर अपनी बात संयम से कह सकते है। में जानता हूँ कि मेरे बहुत सारे साथी मेरी इस बात से सहमत नही होंगे। *परन्तु इसका एक दूसरा पहलू भी है काले झंडे दिखाने के बाद पुलिस के अधिकारी हमारे साथियों पर मुकदमे दर्ज कर बड़ी-2 धाराएं लगा देते है। जिसे हमारे बहुत सारे नवयुवकों का भविष्य खराब होने का खतरा है*। राजनीति में  किसी बात का विरोध करना कोई गलत नही है। परन्तु विरोध का एक तरीका होना चाहिए काले झंडे दिखाने से या किसी भी बड़े नेता या मुख्यमंत्री या मंत्री की मुर्दाबाद करने से कोई भी  बड़ा नेता नही बन सकता है। अगर आपको लगता है कि कोई सरकार जनता या अपने किये वादों पर खरी नही उतर रही है तो उसका विरोध दर्ज करने के लिए धरना प्रदर्शन ज्ञापन देना चाहिए। कोई भी आंदोलन करना हम सब का अधिकार है। परंतु कोई भी धरना प्रदर्शन या आंदोलन हिसक नही होना चाहिए शाँति पूर्वक हम अपनी बात जिले DM को ज्ञापन के रूप में मिलकर कह सकते है।
  दिनांक 27/04/2018 को प्रदेश के मुख्यमंत्री  आदरणीय योगी जी का जनपद बुलंदशहर में आगमन हुआ। आगमन के बाद किसान यूनियन का प्रतिनिधिमंडल उनसे मिला , हाईकोर्ट बार के सम्बंध में डिस्ट्रिक्ट बार के अध्यक्ष सुमन राधव जी के नेतृत्व में उनसे मिले। तथा बहुत सारे जिले के सामाजिक संगठन के नेतागण मुख्यमंत्री जी से मिले और अपनी अपनी बात रखी। इसी प्रकार अगर हमको भी कोई समस्या है तो हमे भी DM  के माध्यम से जनपद आगमन पर मुख्यमंत्री / प्रभारी मंत्री/ बड़े नेताओं से मिलकर अपनी बात रख सकते है।
   आदरणीय साथियों किसी भी मुख्यमंत्री/ मंत्री तथा राजनैतिक  दलों के बड़े नेताओं काले झंडे दिखाना कोई बड़ी बात नही है परन्तु उस समय VIP की सुरक्षा और आपकी जान को कोई भी खतरा उत्पन्न हो सकता है। मेरे बहुत सारे साथी इस बात को नही जानते कि आदरणीय श्री मुलायम सिंह यादव जी, आदरणीय श्री राजनाथ सिंह जी ग्रह मंत्री भारत सरकार,  आदरणीय श्री आदित्यनाथ योगी जी मुख्यमंत्री , आदरणीय श्री अखिलेश यादव जी पूर्व मुख्यमंत्री , बहन कु0 मायावती जी पूर्व मुख्यमंत्री, आदरणीय प्रकाश सिंह बादल पूर्व मुख्यमंत्री,  आदरणीय श्री रमन सिंह जी, आदरणीय श्री गुलाम नवी आजाद ये सभी राजनेता देश को सबसे बडी सुरक्षा एजेंसी जेड प्लस With NSG कमांडों With QRT इन सभी को प्राप्त है इस सुरक्षा में जो साथी काले झंडे या विरोध प्रदर्शन इनके वाहनों के आसपास करते है या करना चाहते है गलत है। इसे हमारी जान को भी खतरा हो सकता है। ये सभी आदरणीय नेतागण हमारे देश की धरोधर है। कृपया इनकी सुरक्षा का तथा अपनी सुरक्षा का भी ध्यान रखे।  भविष्य में अगर हमारे कुछ साथियों को कोई समस्या है या कोई जनता की बात रखनी है तो उसके लिए उचित मंच के माध्यम से अपनी बात रखनी चाहिए ना कि काले झंडे दिखकर आदरणीय नेतागण और अपनी जान के खिलवाड़ करना चाहिए।

          आपका स्नेहकांक्षी।
               दिनेश गुर्जर
              प्रदेश अध्यक्ष
  अखिल भारतीय गुर्जर महासभा
                उत्तर प्रदेश

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें